Panipat – ​’दादी चंद्रमणि यूनिवर्सल पीस ऑडिटोरियम’ में समाज सेवा में नए आयाम विषय पर सेमिनार

पानीपत हरियाणा – दादी चंद्रमणि यूनिवर्सल पीस ऑडिटोरियम में समाज सेवा में नए आयाम विषय पर एक सेमिनार का आयोजन किया गया जिसका उद्घाटन भ्राता कृष्ण लाल पंवार जी, कैबिनेट मिनिस्टर हरियाणा ने किया। उन्होंने बताया की वह विशेष ब्रह्माकुमारिस संस्था की समाज सेवाओं से बहुत प्रभावित हुए है। आपके स्लम एरिया में भी काफी कार्य किया है।

पर्यावरण के बारे में भी जाग्रति लाने के लिए सारे राष्ट्र में भी अनेका अनेक अभियान चलाये है। मुझे भी हरियाणा कैबिनेट मिनिस्टर के रूप में जेल काभी विभाग मिला है और जेलों में भी अपने पुरे भारतवर्ष में प्रतिदिन क्लासेज चलाकर उनके जीवन में परिवर्तन लाया है। उन्होंने उनकी विधान सभा क्षेत्र में ज्ञानमानसरोवर में अभियान के पधारने पर उनका खूब खूब अभिनन्दन किया।

भ्राता अमीरचंद जी उपाध्यक्ष समाज सेवा प्रभाग ने भी विशेष हेल्थ – वेल्थ – हैप्पीनेस कहते है तो हैप्पीनेस मुख्य है तो हेल्थ और वेल्थ स्वतः ही आ जाती है। उन्होंने खास बताया की ये 50 दिनों का अभियान 50 शहरों को – जम्मू से मुंबई तक कवर करेगा। जिसमे लक्ष्य रखा गया है की समाज सेवी संस्थाओ की सेवा अधिकतर की जाये।

भारत भूषण भाई जी, डायरेक्टर ज्ञान मानसरोवर, पानीपत ने लगभग 25 समाज सेवी संस्थाओ के पदाधिकारियों का एवम समाज सेवा से जुडे लोगो का एवं मंचासीन सब अतिथियों का स्वागत  करते हुए कहा की हम ज्ञान मानसरोवर में हरवर्ष समाज सेवा के प्रोग्राम करते रहते है जैसे नारी उत्थान, युवा विकास, स्वास्थ्य जाग्रति सम्मलेन और पूरा ब्रह्माकुमारीज़ संसथान का एक ही लक्ष्य है आध्यात्मिकशक्ति द्वारा समाज को लाभ पहुंचना ।

दिल्ली से पधारी ब्रह्माकुमारी सुंदरी दीदी जी सबजोन इंचार्ज मालवीय नगर ने भी यह बताया आध्यात्मिक शक्ति के बिना समाजसेवा संभव नहीं। ब्रह्माकुमारी सरला दीदी सबजोन इंचार्ज, पानीपत ने मैडिटेशन का अभ्यास करवाया। इस अवसर पर लगभग 25 समाज सेवी संस्थाए पधारी जिसमे उन सब के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष सेक्रेटरी एवम 6-6 पदाधिकारियों को मंच पर बुलाकर ब्रह्माकुमारी संसथान की और से विशेष स्मृति चिह्न एवं दुशाले एवं ब्लेसिंग कार्ड देकर उनका अभिनन्दन किया गया। समाज सेवी संस्थाओ के नाम इस प्रकार से है-

1.जन सेवा जल, 2. विक्लांग विकास संस्था , 3. सांझी सेवा चैरिटेबल ट्रस्ट, 4. वक्त दे रक्त दे, 5. जिंदगी ग्रुप 6. आर सी ग्रुप, 7. अमिताभ अवस्ती – असिस्टेंट ऑफ़ गवर्नर, 8. लाला हरी राम- प्रधान मडलौडा गऊशाला 9. हरी ओम तायल चेयर पर्सन,पाइट, 10. सचिन गुगलानी- प्रेजिडेंट रोटरी क्लब, 11. आर्ट ऑफ़ लिविंग -सागर तगरा (ट्रेनर) 12. नारी प्रधान समीति, 13. इनर व्हील मिडटाउन पानीपत, 14. इनर व्हील सेंट्रल पानीपत, 15. नारी तू नारयणी उठान 16. चेतना परिवार ट्रस्ट, 17. सोम भाई मेमोरियल ट्रस्ट, 18.  भारतीय महिला कल्याण समिति, 19.  कासीगिरि मंदिर , 20.  बाँदा बहादुर

 

 

Panipat- ​ज्ञान मानसरोवर में विश्व स्वास्थ्य दिवस पर स्वास्थ्य सम्मलेन का आयोजन

विश्व स्वास्थ्य दिवस स्वास्थ्य सम्मलेन

ज्ञान मानसरोवर पानीपत में विश्व स्वास्थ्य दिवस पर एक स्वास्थ्य सम्मलेन का आयोजन किया गया. जिसमे लगभग 1000 से अधिक व्यक्तियों ने भाग लिया.

एम्स, दिल्ली से पधारी प्रो. एवम विभागाध्यक्षा डा. उषा किरण ने हृदय रोगों के कारण एवम निवारण पर प्रकाश डालते हुए कहा की धूम्रपान एवं व्यसनों को छोड़े, प्रतिदिन एक्सरसाइज करें, सदा खुश रहे. उन्होंने कुछ एक्सरसाइज भी करवाई.

सिटी हॉस्पिटल, भिवाड़ी के डायरेक्टर डा. रूप सिंह जी ने बहुत ही रमणीक तरीके से सुनाया की भूख से आधा खाये, प्यास से दुगना पियें, तीन गुणा कसरत करे, चार गुणा हॅसे, पांच गुणा मेहनत करे, छ गुणा विश्राम करे और सात गुणा परमात्मा का ध्यान करे.

डा. संजय मुंजाल, ENT विभागाध्यक्ष पि. जी. आई. चंडीगढ़ ने कहा की सुई से कभी भी कान की सफाई न करें, मोबाइल 1.5 घण्टे से अधिक प्रयोग न करे. ईरफ़ोन (हैंड्सफ्री) का प्रयोग  कम से कम करे. मोबाइल की रेडिएशन्स हमारे शरीर पर बुरा प्रभाव डालते है इसलिए जितना हो मोबाइल दूर रखे.

बी. के. भारत भूषण, डायरेक्टर, ज्ञान मानसरोवर ने बताया की विश्व स्वास्थ्य दिवस की शुरुवात 1950 में हुई. हर साल विश्व स्वास्थ्य दिवस के उपलक्ष्य में ज्ञान मानसरोवर में स्वास्थ्य सम्मलेन का आयोजन किया जाता है. वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन के अनुसार स्वास्थ्य के 4 पहलू हैं – भौतिक,मानसिक,सामाजिक, आध्यात्मिक। उन्होंने अन्य दो प्रकार के स्वास्थ्य और भी बताये -पर्यावरण,आर्थिक। अगर पर्यावरण अच्छा होगा तो हमारा स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा। ऐसे ही हमें आर्थिक स्वास्थ्य के बारे में भी योजना बनानी चाहिए। अगर किसी समय में कुछ बीमारी है और हमारे पास चिकित्सा बीमा है तो हम आसानी से उपचार प्राप्त कर सकते हैं.

जम्मू से पधारे डॉक्टर अशोक मनचंदा ने बताया कि स्वस्थ जीवन शैली के लिए हमें अपने आहार का ध्यान रखना चाहिए।हमें तली, मसालेदार चीजों से बचना चाहिए।स्वस्थ जीवन शैली के लिए कम भोजन खाने की कोशिश करें।

बी. के. सरला दीदी जी ने ध्यान का संचालन किया और बताया कि परमात्मा की याद से हम सर्वांगीण स्वास्थ्य प्राप्त कर सकते है।

  World health day- Health conference

A Health Conference was organized on World Health Day in Gyan Mansarovar Panipat. More than 1000 people attended the  conference.

Professor and HOD of  Dr. Usha Kiran,from AIIMS New Delhi explained the causes and prevention of Heart diseases,she said, quit smoking and addictions, exercise everyday always be happy. She conducted some exercises activities for Audience.

Dr. Roop Singh Ji, Director of City Hospital, Bhiwadi, has given a very entertaining Speech that eat half of the hunger, drink twice as much as thirst, exercise thrice, Laugh four times, work hard for five times, sleep six times and Do Mediation seven times.

Dr. Sanjay Munjal, Head of ENT, P. G. I. Chandigarh said that never need to clean the ear with the needle, do not use mobile over 1.5 hours.Use Minimum earphone (hands-free). Mobile radiations have a bad effect on our body so keep away from the mobile as much as you can.

B.K.  Bharat Bhushan, Director, Gyan Mansarovar said that World Health Day started in 1950. Every year, a health conference is being organized in Gyan Mansarovar on the occasion of World Health Day. According to the World Health Organization, there are 4 dimensions of health – physical, mental, social, spiritual. He also added two types of health – environmental and economic. If the environment is good then our health will also be good.Similarly, we should also plan for economic health. If there is some disease at some time and we have medical insurance, then we can get treatment easily.

Dr. Ashok Manchanda from Jammu told that we should take care of our diet for a healthy lifestyle. We should avoid fried, oily, spicy things. Try to eat less food for healthy lifestyle.

B.K. Sarla Didi conducted meditation and explained meditation can lead us to achieve Holistic Health.

Panipat:Bk Bharat Bhushan adressing in Sant Longo wal Institute of Engineering

Bk Bharat Bhushan adressing in Sant Longo wal Institute of Engineering & Technology (No.1 Engineering college of Punjab)Built in 450 Acres of Land.

Panipat :Shivjayanti Mahotsav

Panipat – BK Bharat Bhushan Visit to Europe (Germany, Poland, Belgium, Switzerland, Spain and Portugal)

Bk Bharat Bhushan Visit to Europe (Germany, Poland, Belgium, Switzerland, Spain and Portugal)

1. Germany

BK Bharat Bhushan was invited by Exporters of Panipat to International Fair, Frankfurt at Germany. From textile city Panipat 75 Exporters installed their pavilions in International Fair, Frankfurt.

BK Bharat Bhushan had meeting with all 75 V.I.P. exporters in their pavilion individually. Few of them participated in a program ‘Being Busy Be Easy’ at Frankfurt center where Sudesh Didi & BK Bharat Bhushan Bhai addressed them.

BK Bharat Bhushan also met with Mrs. Rita Parkar, Consulate General of India at Frankfurt with Sis. Elke, Partibha & Bro. Ankur. 3 days Retreat was also organized for Hindi Bks of Germany at Frankfurt centre.

A programe on ‘Harmony in Relationship’ was organized for contact souls at Frankfurt center.

2.Switzerland
A Program was organized on “Mind Management” at Zürich center, capital of Switzerland. Many people participated in this Program and at the end of Program Br. Mathias presented vote of thanks. Yoga Bhatti for Brahamin also organized at Zürich centre.

3.Spain
A Retreat Program for Contact People was organized at Barcelona Retreat House on the Topic “Forgiveness for Fulfillment. 40 People participated .B.K. Bharat Bhushan conducted 2 Sessions. Sis. Marta NCO, Spain conducted other sessions of the Retreat.
1. Empty the mind and heart from Negativity
2. Forgiveness for fulfillment – Choose and Give up.
A Program on the Theme ” Mastering the Mind” was organized at Barcelona Center. Everyone got inspired from Enthusiastic Speech of BK Bharat Bhushan. Yoga Bhatti was also organized for BK Family.

4.Portugal
Public program was organized at Lisbon center, capital of Portugal on “Self Empowerment” in the seminar hall of the center. About 100 Participants participated. A Program was also organized on “Benefits of Meditation” at Red Cross center of Lisbon. About 50 persons participated in this program.
Yoga Bhatti was also organized for BK’s at Lisbon, Barcelona and Warsaw.

5. Poland
A Programe for contact soul was organized at centre at Warsaw capital of the Poland. And Yoga Bhatti and classes for Brahmins were also organised for 2 days at Warsaw center.

6. Belgium
A program was organised for contact soul on the theme Mechanisim of Meditaiton . Everyone was influnced in this programe with the spiritual vibration. Sis. Catherene NCO Spain welcomed the Participants and Bro. Chandan presented the Vote of Thanks.

Yamuna Nagar, HR.- Lecture on Mind Management

Yamuna Nagar- Group Photo after delivering lecture on Mind Management in Poly plastic company.
R-L- BK Harshita (Rajyoga Teacher, Gyan Masarovar), BK Ramesh (Rajyoga Teacher, Yamauna nagar), BK Bharat Bhushan (Director, Gyan Mansarovar, Panipat), Mr. Tyagi, BK Poonam and others.

Panipat- Cultural Conference at Gyan Mansarovar: ​ Ram Kumar Kashyap, MP Inaugurates

ज्ञान मानसरोवर, पानीपत- भ्राता राम कुमार कश्यप- सांसद राज्य सभा कुरुक्षेत्र ने सांस्कृतिक सम्मेलन का उदघाटन किया। अपने उदघाटन सम्बोधन में उन्होंने कहा की मेंने ब्रह्माकुमारीज़ के किसी सम्मेलन में प्रथम बार भाग लिया है ओर मुझे यहाँ आकर बहुत ख़ुशी हुई है। संस्था जैसे विभिन्न प्रभागो के द्वारा सेवाओं का कार्य कर रही है वह सचमुच में सराहनीय है। संस्था का नारा स्वयं परिवर्तन से विश्व परिवर्तन बहुत अच्छा लगा। सुप्रसिद्घ गायकों द्वारा ईश्वरीय संगीत कार्यक्रम का आयोजन ज्ञान मानसरोवर के भव्य सभागार दादी चंद्रमणि ऑडिटॉरीयम में किया गया। जिसमें लगभग 1000 से अधिक लोगों ने भाग लिया। इस सम्मेलन में 4 सुप्रसिद्घ  गायक पठानकोट से भ्राता ओम् प्रकाश जी, चंडीगढ़ से भ्राता जयगोपाल लूथरा जी, करनाल से भ्राता विजय जी, दिल्ली-शालिमार बाग़ से भ्राता अश्वनी जी ऐवम भ्राता गौरव जी पधारे।जिन्होंने अपनी सुंदर सुंदर प्रस्तुतियो से सबको रुहानियत के रंग में रंग दिया।
भ्राता भारत भूषण जी, निर्देशक ज्ञान मानसरोवर ने उत्साह वर्धक सम्बोधन करते हुए कहा की संगीत का साधना से बहुत गहरा सम्बंध है। पूरे कल्प में संगीत का विशेष रोल रहा है। इसलिए संगीत सुनकर हमारे मन का संगीत बज उठे ओर हमारा मन परम सत्ता के साथ जुड़ जाए।
आदरणीय सरला बहन जी, सर्कल इंचार्ज, पानीपत ने अपने आशिर्वचन देते हुए सभी संगीतकारो के प्रति शुभ कामनाए व्यक्त की।
ब्रह्माकुमारी प्रेम बहन-नोर्थ ज़ोन की ज़ोनल कोऑर्डिनेटर, आर्ट एंड कल्चर विंग ने मच संचालन किया। ब्रह्माकुमारी बिंदु बहन, सेंटर इंचार्ज तहसील कैम्प, ने सबका स्वागत किया।ब्रह्माकुमारी राज बहन, सेंटर इंचार्ज शामली , ब्रह्माकुमारी सुनीता बहन, सेंटर इंचार्ज हुड्डा ने इस मौक़े पर अपनी शुभ कामनाएँ व्यक्त की।